होम देश जासूसी कांड को लेकर संसद में हंगामा, 26 जुलाई तक के लिए...

जासूसी कांड को लेकर संसद में हंगामा, 26 जुलाई तक के लिए लोकसभा स्थगित।

किसानों के आंदोलन और हालिया ‘पेगासस स्नूपिंग स्कैंडल’ को लेकर कांग्रेस सांसदों ने शुक्रवार को संसद के बाहर महात्मा गांधी की प्रतिमा के सामने विरोध प्रदर्शन किया।

बाद में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया जब देश की कोविड-19 की तैयारियों को लेकर लोकसभा को अपडेट कर रहे थे तो विपक्ष ने हंगामा कर दिया।

जहां लोकसभा को 26 जुलाई तक के लिए स्थगित कर दिया गया, वहीं राज्यसभा को आज दोपहर 2:30 बजे तक के लिए स्थगित कर दिया गया।

कांग्रेस सांसद मनिकम टैगोर ने ‘पेगासस प्रोजेक्ट’ रिपोर्ट पर चर्चा के लिए आज लोकसभा में एक स्थगन प्रस्ताव पेश किया।

लोकसभा महासचिव को पत्र लिखकर कहा गया कि

“सदन मीडिया में हाल के आरोपों पर चर्चा करे। सरकार द्वारा कई वरिष्ठ विपक्षी नेताओं, संवैधानिक अधिकारियों, पत्रकारों और कार्यकर्ताओं की जासूसी और ऑनलाइन निगरानी करने के लिए जो इजरायली सॉफ्टवेयर पेगासस का उपयोग कर रहे हैं और जो भारतीय संविधान के अनुच्छेद 21 के तहत गारंटीकृत व्यक्तियों की गोपनीयता के अधिकार के लिए गंभीर प्रभाव डाल सकते हैं।

राहुल गांधी सहित कई कांग्रेसी नेताओं ने गुरुवार को संसद के बाहर केंद्र के कृषि कानूनों का विरोध किया।

कांग्रेस ने पेगासस स्पाइवेयर का उपयोग कर निगरानी के आरोपों की सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में जांच की भी मांग की है, और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के इस्तीफे की भी मांग की है।

विपक्ष ने दावा किया है कि पेगासस स्पाइवेयर का उपयोग कर एक अज्ञात एजेंसी द्वारा संभावित निगरानी लक्ष्यों की लीक सूची में कई भारतीय राजनेताओं, पत्रकारों, वकीलों और कार्यकर्ताओं के नाम कथित रूप से सामने आए हैं।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें