होम मनोरंजन बिहार में राजनीतिक टकराव बड़ा, RJD ने कहा नीतीश कुमार तेजस्वी यादव...

बिहार में राजनीतिक टकराव बड़ा, RJD ने कहा नीतीश कुमार तेजस्वी यादव को गिरफ्तार करके दिखाए जमानत नहीं लेंगे।

बिहार में पिछले कुछ दिनों से सियासी सरगर्मियां तेज है और मुख्य विपक्षी पार्टी आरजेडी आक्रमक। नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव की अगुवाई में आरजेडी राज्य की नीतीश कुमार की सरकार को घेरने का कोई मौका नहीं छोड़ना चाहती है। इसी कड़ी में आरजेडी ने आज साफ किया है कि ताजा मामले में तेजस्वी यादव समेत उनके 22 नेता जिनके उपर केस दर्ज किया गया है वो जमानत नहीं लेंगे। इन लोगों का कहना है कि नीतीश कुमार पुलिस को आदेश देकर उन्हें गिरफ्तार करवा लें।

 

दरअसल  पटना जिला प्रशासन ने आरजेडी को 23 मार्च को कोरोना संक्रमण की गाइडलाइन के तहत बिहार विधानसभा का घेराव करने की अनुमति नहीं दी थी। इसके बावजूद आरजेडी के कार्यकर्ता सड़कों पर उतर आए। इस दौरान  पटना की सड़कों पर जमकर हंगामा हुआ। पुलिस और आरजेडी कार्यकर्ताओं के बीच पथराव भी हुआ और पुलिस को लाठियां भांजनी पड़ी थी। इसे लेकर एक मामला दर्ज करवाया गया है।

 

इस मामले में पटना पुलिस ने बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव और उनके भाई तेजप्रताप यादव सहित 22 राजद नेताओं के खिलाफ हत्या की कोशिश का मुकदमा दर्ज की है। आरजेडी ने अह साफ किया है कि वे इस मामल में जमानत नहीं लेंगे, सरकार तेजस्वी यादव को गिरफ्तार कराकर जेल भेजें।

 

आरजेडी प्रवक्ता के प्रवता मृत्युंजय तिवारी ने नीतीश सरकार पर हमला करते हुए कहा है कि सत्ता के लोग बंदूक के बल पर सरकार चलाना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि आंदोलनकारियों के खिलाफ बिहार सरकार हत्या की कोशिश सहित अन्य संगीन आरोपों के तहत मामला दर्ज कर रही है। उन्होंने कहा कि राजद राज्य की सबसे बड़ी पार्टी है। तिवारी कहते हैं कि इस मुद्दे पर अब हम फिर से सड़कों पर उतरेंगे।

 

इसके साथ ही आरजेडी ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से भी ट्वीट कर सीएम नीतीश कुमार पर हमला किया है। आरजेडी ने लिखा है कि ‘मुख्यमंत्री नीतीश जी, आप राजद कायकर्ताओं को फांसी पर लटका दो, फिर भी न डरेंगे, न झुकेंगे, न रुकेंगे। बेरोजगारी, महंगाई, कानून व्यवस्था सहित जनसरोकार के मुद्दों को लेकर नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव जी के नेतृत्व में अनवरत संघर्ष जारी रहेगा।’

 

आपको बता दें कि बिहार में पिछले साल 2020 में हुए विधानसभा चुनाव के बाद राज्य में सबसे बड़ी पार्टी बनी आरजेडी सता पक्ष पर लगातार निशाना साध रही है। विधानसभा के बजट सत्र में विपक्ष ने सत्ता पक्ष को घेरने को लेकर कोई मौका न

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें