होम हेल्थ टिप्स कम सोने से दिमाग पर क्या पड़ता है असर? जाने कम नींद...

कम सोने से दिमाग पर क्या पड़ता है असर? जाने कम नींद के दुष्प्रभाव:

हमें कई बार बताया जाता है कि रात में 7 से 8 घंटे की नींद हर व्यक्ति के लिए जरूरी है अच्छी नींद से हमारा शरीर  रिलैक्स  होता है और हम उठते ही प्रेस और एनर्जी टिक फील करते हैं अगर हम कम नींद लेते हैं तो दुर्बलता ,कमजोरी और सुस्ती  कारण बनते हैं अगर ढंग की नींद ना मिले तो पूरा दिन खराब होता है स्वस्थ रहने के लिए पूरी नींद लेना बहुत जरूरी हैl

आइए जानते हैं नींद की कमी से कौन-कौन से नुकसान हो सकते हैं

नींद पूरी न होने पर शरीर में दिमाग को पूरी तरह आराम नहीं मिलता जिसके कारण शारीरिक दर्द ,अकड़न  सिर का भारी होना, चिड़चिड़ापन जैसी परेशानियां होना आम बात है

कम नींद का प्रभाव आपके पाचन तंत्र पर भी पड़ता है प्राप्त नींद न लेने पर आपकी पाचन शक्ति कमजोर हो जाती है जिसके कारण आपका पेट साफ न होने या कब्ज की समस्या भी हो  सकती हैl

 

कम नींद लेने वाले अक्सर तनाव व मानसिक समस्याओं के शिकार हो जाते हैं पूरी नींद न लेने से मस्तिष्क को सही मात्रा में आराम नहीं मिल पाता

 

पूरी नींद न लेने से मानसिक क्षमता और स स्मरण शक्ति के लिए बेहद खतरनाक है आपकी याददाश्त कम हो सकती है यहां तक कि भूलने की बीमारी भी हो सकती हैl

सोनी से हमारे शरीर में कुछ सकारात्मक परिवर्तन होते हैं जिससे हमारा विकास सुधार कोशिकाओं का रिलैक्स होना और मानसिक विकास आदि शामिल है अगर हम पूरी नींद नहीं लेते हैं यह फायदे हमें नहीं मिल पाते हैं

 

स्वस्थ रहने के लिए हमें पूरी नींद लेना बहुत जरूरी है अगर आप के 7 घंटे की नींद पूरी नहीं होती है तो आपकी सेहत को नुकसान पहुंच सकता है इसीलिए आप कोशिश करें कि आपके साथ घंटे की नींद पूरी हो और आपका स्वास्थ्य ठीक रहेl

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें